Lifestyle News

उम्र बढ़ने के साथ बदल लें कुछ आदतें, लंबी उम्र तक रहेंगे हेल्दी और यंग

  • 15-Oct-2022
  • 336
आपकी उम्र कितनी भी हो, अगर आपमें चुस्ती-फुर्ती है और बीमारियां नहीं तो आप पर बढ़ती उम्र का असर नहीं दिखेगा। हर कोई यंग और हेल्दी रहना चाहता है। इसके लिए कुछ खास एफर्ट्स करने की जरूरत भी नहीं है। आप रूटीन में छोटे-मोटे बदलाव करके भी स्वस्थ जिंदगी जी सकते है। ऐसा करने से बढ़ती उम्र के लक्षण जल्द नहीं दिखाई देते और आप लंबी उम्र जीते हैं। दरअसल हमारा शरीर प्रकृति ने इस तरह से बनाया है कि इंसान ज्यादा से ज्यादा सर्वाइव करे। बीमारियों से बचने के लिए हमें प्रतिरक्षा तंत्र भी मिला है। बस जरूरत है इस सिस्टम को सपोर्ट करने की। यहां जानें आप ऐसा कैसे कर सकते हैं।
Lifestyle News उम्र बढ़ने के साथ बदल लें कुछ आदतें, लंबी उम्र तक रहेंगे हेल्दी और यंग

खाएं ऐंटीऑक्सीडेंट वाले फूड्स

उम्र बढ़ने के साथ शरीर में कई माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की कमी होने लगती है। साथ ही इनफ्लेमेशन बढ़ने लगता है। अच्छी बात यह है कि प्रकृति ने इससे बचने के कई तरह के सुपरफूड्स गिफ्ट के तौर पर दिए हैं। हरी सब्जियां, फल, बेरीज, नट्स, ग्रीन टी, मसाले शरीर के इनफ्लेमेशन को कम करते हैं।

रहें हाइड्रेट

हेल्दी, ऐक्टिव और यंग दिखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना बेहद जरूरी है। आपके ब्रेन और शरीर को सही तरह से काम करने के लिए पानी बेहद जरूरी है। हाइड्रेट रहने से स्किन भी ग्लो करती है, साथ ही शरीर से टॉक्सिन्स निकल जाते हैं। आप अपने यूरिन के कलर को देखकर पता कर सकते हैं कि कहीं आप पानी कम तो नहीं पी रहे। पानी की कमी होने पर यूरिन हल्का पीला दिखने लगता है।
 

हेल्दी और यंग रहने के लिए ऐक्टिव रहना बेहद जरूरी है। इससे आपके जॉइंट्स फ्लैक्सिबल रहते हैं, ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और मूड भी अच्छा रहता है। लंबी उम्र जीते हैं ब्लू जून के लोग, न जिम, न डायटिंग जानें क्या है यंग दिखने और खुशहाल रहने का राज

7 घंटे नींद जरूरी

नींद पूरी न होने से दिल सहित कई तरह की बीमारियां होने का खतरा रहता है। जब हम सोते हैं तो बॉडी और ब्रेन की सेल्स रिपेयर होती हैं। स्वस्थ रहने के लिए कम से कम 7 घंटे नींद लेना जरूरी है।

स्ट्रेस कम करें

स्ट्रेस की वजह से बढ़ती उम्र के लक्षण वक्त से पहले दिखने लगते हैं। तनाव लेना भी कई बीमारियों की वजह है। आप तनाव को कम करने के लिए योग, प्राणायाम, माइंडफुलनेस प्रैक्टिस कर सकते हैं। गाने सुनना, डांस करना, गार्डनिंग या कोई हॉबी जो आपको पसंद हो उसे भी अपना सकते हैं।