National News

महाकाल लोक : तस्वीरों में देखिए कालों के काल महाकाल का दिव्य संसार |

  • 11-Oct-2022
  • 296
उज्जैन. कालों के काल महाकाल की नगरी आज उत्सव और उल्लास में सराबोर है. यहां बने भव्य औऱ दिव्य महाकाल लोक का लोकार्पण हो रहा है. शहर का हर कोना धार्मिक-सांस्कृतिक छवि का नजारा पेश कर रहा है. शहर और प्रदेश के लोग जिस उल्लास से इसमें शामिल हैं वो देखने लायक है. यहां बना कॉरिडोर भव्य और अप्रतिम है.
National News महाकाल लोक : तस्वीरों में देखिए कालों के काल महाकाल का दिव्य संसार |


महाकाल लोक एक भव्य और वृहद योजना है जिसने साकार रूप ले लिया है. पूरा प्रोजेक्ट 865 करोड़ रुपये का है. इसका पहला चरण पूरा हो गया है जिसे पीएम नरेन्द्र मोदी आज जनता को समर्पित कर रहे हैं.

अभी महाकाल परिसर करीब 2.8 हेक्टेयर में फैला हुआ है. प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद ये बढ़कर 47 हेक्टेयर का हो जाएगा. महाकाल लोक बनने के बाद अब प्रवेश द्वार सीधे मंदिर के गर्भगृह से जुड़ जाएगा. इसका कुल 946 मीटर लंबा गलियारा बनाया गया है.
अभी महाकाल परिसर करीब 2.8 हेक्टेयर में फैला हुआ है. प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद ये बढ़कर 47 हेक्टेयर का हो जाएगा. महाकाल लोक बनने के बाद अब प्रवेश द्वार सीधे मंदिर के गर्भगृह से जुड़ जाएगा. इसका कुल 946 मीटर लंबा गलियारा बनाया गया है.
विज्ञापन

 पीएम मोदी के उज्जैन में तीन कार्यक्रम हैं. सबसे पहले वो महाकाल के दर्शन कर पूजा करेंगे. उसके बाद महाकाल लोक का लोकार्पण करेंगे. सबसे बाद में कार्तिक मेला मैदान पर विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे.
पीएम मोदी के उज्जैन में तीन कार्यक्रम हैं. सबसे पहले वो महाकाल के दर्शन कर पूजा करेंगे. उसके बाद महाकाल लोक का लोकार्पण करेंगे. सबसे बाद में कार्तिक मेला मैदान पर विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे.

 महाकाल कॉरिडोर यानि महाकाल लोक भव्य और अप्रतिम बनाया गया है कि देखने वाले चमत्कृत रह जाएंगे. पूरे कॉरिडोर में अद्भुत शिल्प कला देखने मिलेगी. इसमें शिव गाथाओं को शिल्प के जरिए मानों जीवन दे दिया गया है. पूरे गलियार में शिल्प और मूर्तिकला का नायाब और बेजोड़ संगम है.
महाकाल कॉरिडोर यानि महाकाल लोक भव्य और अप्रतिम बनाया गया है कि देखने वाले चमत्कृत रह जाएंगे. पूरे कॉरिडोर में अद्भुत शिल्प कला देखने मिलेगी. इसमें शिव गाथाओं को शिल्प के जरिए मानों जीवन दे दिया गया है. पूरे गलियार में शिल्प और मूर्तिकला का नायाब और बेजोड़ संगम है.

पूरे मंदिर में गर्भगृह से लेकर परिसर तक को सुगंधित और तरह तरह के फूलों से सजाया गया है. 7 शहरों से करीब 250 क्विंटल फूल मंगवाए गए थे. शहर की गलियों और सड़कों पर विद्युत साज सज्जा की गयी है. नंदी हॉल, सभामंडपम, कार्तिकेय, गणेश मंडपम का हर कोना फूलों की सुगंध से महक रहा है.
पूरे मंदिर में गर्भगृह से लेकर परिसर तक को सुगंधित और तरह तरह के फूलों से सजाया गया है. 7 शहरों से करीब 250 क्विंटल फूल मंगवाए गए थे. शहर की गलियों और सड़कों पर विद्युत साज सज्जा की गयी है. नंदी हॉल, सभामंडपम, कार्तिकेय, गणेश मंडपम का हर कोना फूलों की सुगंध से महक रहा है.
विज्ञापन

 उज्जैन आज ऐतिहासिक पलों का गवाह होने जा रहा है. यहां आस्था-श्रद्धा-भक्ति और आध्यात्म की नयी इबारत लिखी जा रही है. इस उत्सव में पूरा शहर धर्म और समाज की चहारदीवारी से ऊपर उठकर एक साथ शामिल है.
उज्जैन आज ऐतिहासिक पलों का गवाह होने जा रहा है. यहां आस्था-श्रद्धा-भक्ति और आध्यात्म की नयी इबारत लिखी जा रही है. इस उत्सव में पूरा शहर धर्म और समाज की चहारदीवारी से ऊपर उठकर एक साथ शामिल है.

 उज्जैन शहर फूलों की सजावट से सजा धजा नजर आ रहा है. महाकाल मंदिर में गर्भ गृह नंदी मंडपम कार्तिकेय मंडपम से लेकर मंदिर के बाहर के परिसर को भांति भांति के सुगंधित और सुंदर फूलों से सजाया गया है. मंदिर परिसर की सजावट की कुछ इस तरह से की गयी है कि कोना कोना साफ सुथरा और सजा हुआ नजर आ रहा है.
उज्जैन शहर फूलों की सजावट से सजा धजा नजर आ रहा है. महाकाल मंदिर में गर्भ गृह नंदी मंडपम कार्तिकेय मंडपम से लेकर मंदिर के बाहर के परिसर को भांति भांति के सुगंधित और सुंदर फूलों से सजाया गया है. मंदिर परिसर की सजावट की कुछ इस तरह से की गयी है कि कोना कोना साफ सुथरा और सजा हुआ नजर आ रहा है.

 मध्य प्रदेश में आज का दिन धार्मिक उल्लास और आस्था की नयी इबारत लिखने के लिए तैयार है.  856 करोड़ रुपए का महाकाल कॉरिडोर प्रोजेक्ट के पहले चरण को आज पीएम मोदी जनता को समर्पित करेंगे.पूरे कॉरिडोर को बाबा महाकाल, शिव पार्वती विवाह और शिव महिमा सहित धार्मिक कथाओं को चित्रों औऱ मूर्तियों के अद्भुत तरीके से तैयार किया गया है.
मध्य प्रदेश में आज का दिन धार्मिक उल्लास और आस्था की नयी इबारत लिखने के लिए तैयार है.  856 करोड़ रुपए का महाकाल कॉरिडोर प्रोजेक्ट के पहले चरण को आज पीएम मोदी जनता को समर्पित करेंगे.पूरे कॉरिडोर को बाबा महाकाल, शिव पार्वती विवाह और शिव महिमा सहित धार्मिक कथाओं को चित्रों औऱ मूर्तियों के अद्भुत तरीके से तैयार किया गया है.
विज्ञापन

 महाकाल के गर्भगृह में पीएम मोदी का 15 मिनट का पूजन कार्यक्रम है. महाकाल मंदिर के विधि-विधान और नियमों के तहत पूजा की जाएगी. गर्भ गृह में पीएम के साथ तीन पुजारी रहेंगे जो पूजा संपन्न करवाएंगे. पीएम के साथ अधिकतम 5 लोग गर्भ गृह में शामिल हो सकते हैं. बाकी लोग नंदी मंडपम में बैठ सकेंगे.
महाकाल के गर्भगृह में पीएम मोदी का 15 मिनट का पूजन कार्यक्रम है. महाकाल मंदिर के विधि-विधान और नियमों के तहत पूजा की जाएगी. गर्भ गृह में पीएम के साथ तीन पुजारी रहेंगे जो पूजा संपन्न करवाएंगे. पीएम के साथ अधिकतम 5 लोग गर्भ गृह में शामिल हो सकते हैं. बाकी लोग नंदी मंडपम में बैठ सकेंगे.