Lifestyle News

अंग्रेजी में शरीफा या सीताफल को कस्टर्ड एप्पल कहते हैं।

  • 14-Oct-2020
  • 414
बाजार में अब शरीफा यानी सीताफल आने लगे हैं। इसे खाने से शरीर को बहुत फायदे मिलते हैं।  अंग्रेजी में शरीफा या सीताफल को कस्टर्ड एप्पल कहते हैं। शरीफा का सेवन सामान्य लोगों के लिए तो फायदेमंद है ही, लेकिन गर्भवती महिलाओं के लिए ये विशेष फायदेमंद है। इसका कारण है शरीफा में मौजूद पोषक तत्व और फाइबर। इसके अलावा शरीफा मीठा और क्रीमी गूदे से भरा फल है। इस फल में कई महत्वपूर्ण विटामिन्स,  मिनरल्स, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स और फाइबर होते हैं, जिसके कारण ये गर्भावस्था में खाया जाने वाला परफेक्ट फल है। आइये जाने इसे खाने से शरीर को क्या- क्या फायदे मिलते हैं- 
Lifestyle News अंग्रेजी में शरीफा या सीताफल को कस्टर्ड एप्पल कहते हैं।


 खून की कमी करे पूरी- सीताफल में आयरन की मात्रा बहुत अच्छी होती है, जिसके कारण ये शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाता है और खून की कमी को पूरा करता है।
- मॉर्निंग सिकनेस-सीताफल में मौजूद विटामिन बी 6 के कारण सुबह के समय होने वाली मॉर्निंग सिकनेस से छुटकारा मिलता है।
- ब्लड प्रेशर कंट्रोल- सीताफल या शरीफा में पोटैशियम और मैग्नीशियम होता है, जिसके कारण ये ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में बहुत फायदेमंद माना जाता है।  
- कब्ज और पेट की समस्याएं- सीताफल  में डाइट्री फाइबर बहुत अच्छी मात्रा में होता है, इसलिए ये कब्ज की समस्या को ठीक करता है। इसके सेवन से मल मुलायम होता है।
- तनाव घटाता है- शरीफा या सीताफल में मैग्नीशियम होता है, जिसके कारण ये तनाव को कम करता है।
- शरीर को डिटॉक्स करता है- शरीफा में कई खास एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जिसके कारण इसके सेवन से  ब्लड प्यूरिफाई होता है, बॉडी डिटॉक्स होता है और किडनी स्वस्थ रहती है।
 इम्यूनिटी बढ़ाता है- विटामिन सी से भरपूर होने के कारण शरीफा के सेवन से इम्यूनिटी भी बढ़ती है। इसके सेवन से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।  
 सीताफल  खाने में कुछ जरूरी सावधानियां
वैसे तो शरीफा या सीताफल का सेवन आपके लिए हर तरह से फायदेमंद है। बस आपको इसके सेवन में थोड़ी सावधानियां रखनी जरूरी हैं।
- शरीफा या सीताफल के बीजों को हमेशा निकालकर ही खाएं। बीज खा लेने से  पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
-शरीफा या सीताफल की तासीर ठंडी होती है। इसलिए बहुत अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें। दिन में 2-3 फल का ही सेवन करें।
-जिन लोगों को पहले से डायबिटीज की शिकायत है उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि शरीफा या सीताफल में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है।
-जो लोग मोटे हैं उन्हें सीमित मात्रा में शरीफा खाना चाहिए क्योंकि इसमें कैलोरीज की मात्रा अच्छी होती हैं।
-बहुत कच्चे शरीफा का सेवन शरीर को नुकसान पहुंचाता है, इसलिए बेहतर होगा कि  पके हुए  सीताफल का ही सेवन करें।