Lifestyle News

गठिया के दर्द को बढ़ा सकते हैं ये दो पेनकिलर, 70% लोग हर दर्द में करते हैं इनका सेवन

  • 22-Nov-2022
  • 441
सर्दियों के साथ अक्सर लोगों में गठिया की समस्या बढ़ जाती है। दरअसल, होता ये है कि सर्दियों में हमारा ब्लड सर्कुलेशन काफी धीमा होता है और हड्डियों या कहें कि जोड़ों के बीच अकड़न बढ़ जाती है। इससे गठिया वाले लोगों को दर्द और सूजन का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में ज्यादातर लोग इबुप्रोफेन (Ibuprofen) और नेप्रोक्सेन (Naproxen) जैसी दर्द निवारक दवाएं लेते हैं। लेकिन, हाल ही में आई स्टडी बताती है कि ये दवाएं गठिया के लक्षणों को कम करने के जगह इसके सूजन और दर्द को बढ़ा सकते हैं। कैसे, जानते हैं इस स्टडी से।
Lifestyle News गठिया के दर्द को बढ़ा सकते हैं ये दो पेनकिलर, 70% लोग हर दर्द में करते हैं इनका सेवन

पेनकिलर मेडिसिन बढ़ा सकते हैं गठिया का दर्द: शोध
Radiological Society of North America (RSNA) द्वारा किए गए एक शोध की मानें तो, एंटी इंफ्लेमेटरी दवाएं जैसे कि इबुप्रोफेन (Ibuprofen) और नेप्रोक्सेन (Naproxen) आपके जोड़ों के अंदर की मांसपेशियों और लाइनिंग को नुकसान पहुंचाते हैं और एक प्रकार की सूजन पैदा करते हैं। इससे जोड़ों के बीच अकड़न और बढ़ जाती है और ये दर्द काफी ज्यादा बढ़ सकता है। इसके अलावा ये दवाएं आपकी हड्डियों के घनत्व को भी नुकसान पहुंचाते हैं और शरीर में कई समस्याओं का कारण बन सकते हैं।
 

पेनकिलर के ज्यादा सेवन से हो सकता है ऑस्टिओपोरोसिस
ऑस्टिओपोरोसिस की बीमारी में कम उम्र में आपकी हड्डियों कमजोर या कहें कि अंदर से खोखली हो जाती है। इससे फ्रैक्चर का डर बढ़ जाता है। जो लोग इबुप्रोफेन (Ibuprofen) और नेप्रोक्सेन (Naproxen) का सेवन करते हैं, उनमें समय के साथ हड्डियों की लाइनिंग को खराब होते देखा गया है। इससे हड्डियां खोखली हो जाती हैं और आपको ऑस्टिओपोरोसिस की समस्या (osteoarthritis) हो सकती है। साथ ही ये दवाएं हड्डियों के अंदर की कुशनिंग को भी नुकसान पहुंचाते हैं जिससे जोड़ों को आराम मिलता है और इसमें अकड़न नहीं आती है। इस शोध को करने के लिए 793 गठिया के मरीजों की स्टडी की गई और पाया गया कि पेनकिलर हड्डियों की समस्याओं को और बढ़ा सकते हैं।

Stomach Cancer Awareness Month: जानिए स्टमक कैंसर अवेयरनेस मंथ से जुड़ी खास बातें एवं स्टमक कैंसर के लक्षण और बचाव
तो, अगर आप भी उन लोगों में हैं जो कि हर दर्द में इन पेनकिलर मेडिसिन का सेवन करते हैं तो ये आपको इन्हें लेने से पहले इस शोध के बारे में जानना चाहिए। साथ ही हड्डियों के नुकसान से बचने के लिए इसके सेवनन से बचना चाहिए।